आखिर क्या है ये अवचेतन मन? What is the Subconscious Mind?

आखिर क्या है ये अवचेतन मन? What is the Subconscious Mind?

Share (शेयर करे)

यदि आप अपने आप को बदलना चाहते हैं, और वो इंसान बनना चाहते हैं  जो आप असल में चाहते हो, तब आपको एक चीज़ की ज़रूरत पड़ेगी और वो है “ज्ञान”| आप जो भी आज तक सोचते आये हो उसे अपने दिमाग से निकाल दो और अपने अवचेतन मन को अच्छे से समझो|

 

अवचेतन अविश्वसनीय रूप से एक शक्तिशाली मन है जो आपके जीवन के हर पहलू को कण्ट्रोल करता है और उसे आपके जागरूक इनपुट की आवश्यकता भी नहीं पड़ती । सीधे शब्दों में कहें, किसी भी विचार, संदेश या आदेश जो अवचेतन को दिया जाता है, वो अक्सर पर्याप्त समय में, उसे सत्य के रूप में स्वीकार कर लेता है भले ही वह आपको लाभ करे या नहीं । सबसे महत्वपूर्ण बात जो आपको पता होना चाहिए वो ये है कि आपका अवचेतन मन एक शक्तिशाली बच्च्चे की तरह है , इसका मतलब यह है कि आपका अवचेतन मन सकारात्मक और नकारात्मक के बीच अंतर नहीं कर सकता | आप जो सोचोगे वही होगा चाहे वो सकारात्मक हो या फिर नकारत्मक|

यदि आप सकारात्मक हैं और वास्तव में आपके अवचेतन दिमाग की शक्ति में विश्वास करते हैं, चाहे आप जो भी चाहते हैं, अगर आप अपना लक्ष्य तय कर के उसपर पूरे मन से कम कर रहे हो , तब आपका अवचेतन मन १०० प्रतीसत काम करेगा.

आपका अवचेतन मन की जो कमजोरी है – सकारात्मक और नकारत्मक बातों को अलग नहीं समझ पाना, इसे आप असल में कमजोरी मत समझना | यदि आपके अवचेतन मन को यह तय करना होता कि आपके दिल को आपके शरीर के चारों ओर रक्त पंप करना चाहिए या नहीं, एक घाव को ठीक करने के लिए सफेद रक्त कोशिकाओं को तुरंत भेजना चाहिए या नहीं , तब तो बहुत मुश्किल हो जाती | पर असल में ऐसा नहीं होता | कुछ भी हो जाये, जब आपको चोट लगती है, तब आपका अवचेतन मन आपके घाव को ठीक करता ही है चाहे आप कुछ भी कर लें |

क्या आपने कभी सोचा है लोग ये क्यूँ कहते है की आपको सकारात्मक चीजों से घिरे रहना चाहिए? वो इसलिए क्यूंकि आपका अवचेतन मन न इधर देखता है न उधर वो जस्ट आप जिस चीज़ से घिरे हुए हो उसे सच मान लेता है और आपके साथ वैसीही चीज़े होने लगती है जिस से आप घिरे हुए हो | अगर आप सकारात्मक चीजों से घिरे हुए होंगे तो आपके साथ सकारात्मक चीज़े होंगी

दिमाग का अवचेतन पहलू, चेतन मन द्वारा संसाधित किए गए जानकारी को भी मानता है और अवचेतन शारीरिक कार्यों को प्रबंधित और नियंत्रित करता है। मतलब मतलब आप जो सोचते हो, वो आपके अवचेतन दिमाग पर प्रभाव डालती है और आपका अवचेतन मन आपके हृदय की धड़कन, स्वास, रक्त का पम्पिंग, सेलुलर फ़ंक्शन, भौतिक अंगों के निरंतर संचालन आदि जैसे अवचेतन शारीरिक कार्यों को नियंत्रित करता है |

अपने अवचेतन मन को सकारात्मक अनुभवों और भावनाओं की अपेक्षाओं के साथ भरें, और आपके समय के साथ-साथ आपके विचार एक वास्तविकता बन जाएंगे। किसी भी चीज़ की  सकारात्मक परिणाम की कल्पना करें, पूरी तरह से जो कुछ हुआ है उसके नकारात्मक साइड को छोड़ते हुए उसके सकारत्मक साइड को देंखे और उसके उत्साह को महसूस करें। आपके सभी कल्पनाओं और भावनाओं को आपके अवचेतन मन द्वारा स्पष्ट रूप से स्वीकार किया जाता है और फिर जीवन में कार्यान्वित किया जाता है मतलब वो उन बातों  को आपके जीवन में उतर देता है ।

आपका अवचेतन मन न केवल शरीर की सभी प्रक्रियाओं को नियंत्रित करता है बल्कि ब्रह्माण्ड के  विभिन्न सवालों के उत्तर भी जानता है और कई समस्याओं को हल कर सकता है। पर दुनिया आपके अवचेतन मन का कभी-कभी गलत इस्तेमाल भी करती है और आपका ब्रेनवाश करती है | आपके अवचेतन मन को अगर कब्जा कर लिया गया तो कोई भी चीज आपको भावनाओं में घुसाया जा सकता है और इसके चलते आपकी परिस्थिति में नकारत्मक बदलाव आने लगता है । इसलिए, आपको अपने विचारों से अपने दिमाग पर नियंत्रण करने की आवश्यकता है। बिस्तर पर जाने से पहले, एक विशिष्ट अनुरोध के साथ अपने अवचेतन दिमाग को सकारात्मक संदेश दें और जल्द ही आप अपनी चमत्कारी शक्ति कारवाई में देखेंगे। जब आपके पास कोई विशिष्ट लक्ष्य या सपना है, तो इस लाइन को बोले और दोहराएं: “मेरा मानना ​​है कि अवचेतन मन की शक्ति, जिसने मुझे यह इच्छा दी थी, अब इसमें मेरे साथ काम करेगी और मुझे जो चाहिए वो जरुर दिलाएगी । अपने अवचेतन मन में स्वास्थ्य, शांति और सद्भाव के विचारों का विकास करें, और आपके ज़िन्दगी में जो होगा वो अच्छा ही होगा! 🙂

Share (शेयर जरुर करे)

Create Account



Log In Your Account